Sanskrit Vyakaran (संस्कृत व्याकरण)


Worth: ₹ 145.00
(as of May 10,2021 18:14:14 UTC – Particulars)


सम्+सुट्+कृ+क्त = संस्कृत वि+आ+कृ धातु+ल्यप् प्रत्यय = व्याकरण संस्कृत बेहद सरल और प्रभावित करने वाली भाषा है, यदि आपको संस्कृत व्याकरण का ज्ञान है। प्रस्तुत पुस्तक में संस्कृत व्याकरण को बेहद सरल और प्रभावशाली ढंग से समझाया गया है। संस्कृत भाषा अनादिकाल से प्रचलन में रही है। इसे देव वाणी भी कहा गया है। विभिन्न भाषाओं में प्रचलित शब्दों की जननी भी संस्कृत ही है। अतः यह भाषाओं की जननी भी है। प्रस्तुत पुस्तक में संस्कृत भाषा व व्याकरण का सरल शब्दों में विवेचन किया गया है। संशोधन चिन्हों, पर्यायवाची शब्दों, लोकोक्तियों, सूक्तियों के अतिरिक्त माध्यमिक, उच्चतर माध्यमिक व समकक्ष परीक्षाओं में पूछे जाने वाले प्रश्नों के पैटर्न भी दिए गए हैं। इस प्रकार यह पुस्तक सभी के लिए उपयोगी है। This product is marketed by Digital Printech.

READ  Std 10 Perfect Notes Sanskrit Aamod (Entire 100 Marks) Book | All Mediums | SSC Maharashtra Board | Includes Easy Explanation, Textual Questions, Grammar, Writing Skills | Based on 10th New Syllabus
iamin.in participates in the Amazon Services LLC Associates Program, an affiliate advertising program designed to provide a means for sites to earn advertising fees by advertising and linking to Amazon.in. Amazon and the Amazon logo are trademarks of Amazon.in, Inc. or its affiliates.iamin.in is a participant in the Amazon Services LLC Associates Program, an affiliate advertising program designed to provide a means for sites to earn fees by advertising and linking to Amazon.in. Some links on this site will lead to a commission or payment for the site owner.